युवती की जिद के आगे क्यों झुका रेलवे, एक सवारी के लिए चलाई राजधानी एक्सप्रेस

अगर कुछ ठान लिया जाए तो वो पूरा हो ही जाता है। ऐसा ही कुछ मामला सामने आया है। लड़की ने कहां अगर मैं सफर करुगी तो राधानी एक्सप्रेस से ही।  अगर मुझे बस से जाना होता तो मैं ट्रेन का टिकट क्यों लेती। मेरा टिकट एक्सप्रेस का है। लड़की ने ऐसी जिड पकड़ ली की रेलवे अधिकारी भी परेशान हो गए। क्या करें, उन्हें समझ में नहीं आ रहा था। अंत में जिद के आगे उन्हें झुकना पड़ा। राजधानी एक्सप्रेस शाम करीब चार बजे डालटनगंज से वापस गया ले जाकर गोमो और बोकारो होते हुए रांची के लिए रवाना करनी पड़ी। रात करीब 1.45 बजे ट्रेन रांची रेलवे स्टेशन पहुंची।

आपको बता दें कि ट्रेन में अनन्या इकलौती सवारी थी। रेलवे के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब एक सवारी को छोड़ने के लिए राजधानी एक्सप्रेस ने 535 किलोमीटर की दूरी तय की।

रेलवे अधिकारियों ने सोचा, आंदोलन जल्द खत्म हो जाएगा 

लातेहार जिला स्थित टोरी में टाना भगतों के रेलवे ट्रैक पर चल रहे आंदोलन की वजह से डालटनगंज में ट्रेन रोक दी गई।  जिसकी वजह से पहले तो अधिकारियों ने सोचा कि आंदोलन खत्म हो जाएगा तो ट्रेन रांची पहुंचा दी जाएगी। लेकिन आंदोलन खत्म नहीं हुआ तो रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को इसकी जानकारी दी गई। उन्होंने यात्रियों को बसों से रांची भेजने का आदेश दिया। और ट्रेन को डालटनगंज में ही खड़ी रखने का निर्देश दिया। सभी यात्री बस से चले गए लेकिन अनन्या कहा मामने वाली थी वो तो जिद पर अड़ गई।

कार से जाने की बात भी नहीं मानी

रेलवे अधिकारियों ने  अनन्या से कहा कि वे उनके रांची जाने के लिए कार की व्यवस्था कर देंगे। लेकिन वह तैयार नहीं हुई। वह जिद पर अड़ी रही कि राजधानी एक्सप्रेस से ही रांची जाएगी। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को सारी बात बताई गई। विचार-विमर्श के बाद उन्होंने डीआरएम को निर्देश दिया कि अनन्या को राजधानी एक्सप्रेस से रांची भेजें। सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम हों

loading...

Check Also

मिथुन चक्रवर्ती के बेटे महाअक्षय के खिलाफ रेप और जबरन अबॉर्शन का केस; मिथुन की पत्नी पर

मिथुन चक्रवर्ती के बेटे महाअक्षय चक्रवर्ती के खिलाफ मुंबई के ओशिवारा पुलिस स्टेशन में शादी …

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *