यूपी- योगी सरकार के लिए ठोको नीति गले का फांस बनी – अखिलेश

उत्तर प्रदेश में आज गुरुवार से विधानसभा का मानसून सत्र शुरू होने जा रहा है | इसके लिए विधानसभा में कोरोना बीमारी को ध्यान में रखकर कई प्रबंध के गए हैं | पक्ष और विपक्ष अपने-अपने मुद्दे को लेकर बिल्कुल आमने सामने खड़ी है | विपक्ष ने योगी सरकार को घेरने की पूरी तैयारी कर ली है इस बात का संकेत समाजवादी पार्टी के नेता अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विटर पर ट्वीट कर दिया है | अखिलेश ने कहा कि “उप्र विधानसभा का ये सत्र कई मायनों में ऐतिहासिक होगा. सरकार को कोरोना, बेकारी-बेरोज़गारी, जातीय उत्पीड़न व बदहाल क़ानून-व्यवस्था के मोर्चे पर विपक्ष के साथ अपने लोगों के सवालों का भी जवाब देना होगा. भाजपा सरकार की ठोको-नीति सुलह के स्थान पर ‘आंतरिक कलह’ का कारण बन गयी है.|अखिलेश यूपी में कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार को लगातार घेरते रहे हैं |

योगी आदित्यनाथ

इसी क्रम में मंगलवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ” इधर भाजपा के अपने सांसद-विधायक क़ानून-व्यवस्था को लेकर ख़ुद की ही सरकार के शासन-प्रशासन पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं, उधर अपराध नहीं रुक रहे हैं. फ़िरोज़ाबाद से व्यापारी समाज के एक व्यक्ति को ज़िंदा जलाने की दुखद ख़बर आयी है. लगता है प्रदेश की लगाम गलत लोगों के हाथ में चली गयी है.”

इसके साथ ही संसद सत्र के दौरान उन्होंने कोरोना महामारी पर चिंता जताते हुए कहा कि विधानसभा सत्र के दौरान जनप्रतिनिधियों के लिए समुचित व्यवस्था होनी चाहिए|

इस बात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने भी बहुत से इंतजाम किए हैं | जगह-जगह सेनीटाइजर व्यवस्था है | सदन के अंदर मास्क पहन कर जाना अनिवार्य किया गया है| 65 वर्षों से ऊपर के विधायकों को घर से ही सत्र पर भाग लेने को कहा गया है|

loading...

Check Also

मिथुन चक्रवर्ती के बेटे महाअक्षय के खिलाफ रेप और जबरन अबॉर्शन का केस; मिथुन की पत्नी पर

मिथुन चक्रवर्ती के बेटे महाअक्षय चक्रवर्ती के खिलाफ मुंबई के ओशिवारा पुलिस स्टेशन में शादी …

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *