अंग्रेजी टीचर ने डाला पीएनबी में 52 लाख रुपये का डाका

See the source image

बिहार की राजधानी पटना में अनीसाबाद गोलंबर के पास स्थित पंजाब नेशनल बैंक (PNB) की शाखा में 22 जून को दिनदहाड़े 52 लाख रुपये का डकैती की घटना से पुलिस ने पर्दा उठाया दिया है और डकैतों के सरदार समेत पांच डकैतों को पटना पुलिस की विशेष टीम ने गिरफ्तार कर लिया है।
वारदात का मास्टरमाइंड अमन शुक्ला उर्फ अमर सर(सरमेरा नालंदा) पटना के कई कोचिंग संस्थानों में अंग्रेजी की क्लास लेता था। इसके गैंग में दूसरे नंबर पर एक और टीचर हरिनारायण (हायाकोठी, समस्तीपुर) था, जो गांधी मैदान में कराटे ट्रेनर था और सोनेलाल (सबलपुर, वैशाली), गणेश कुमार उर्फ ननकी (बुद्धा कॉलोनी, पटना) और प्रफुल्ल कुमार (पंत पाकड़, सीतामढ़ी) शामिल हैं। ।इस गैंग की खासियत यह है कि इन्होने गैंग में ऐसे लोगों को रखा, जिनका कोई पुलिस रिकॉर्ड न हो।

See the source image

आपको बता दे कि पुलिस ने 33 लाख 13 हजार 125 रुपये कैश बरामद किए हैं। साथ ही 6 लाख की ज्वेलरी, एक लाख की शराब, 5 पिस्टल, 16 राउंड जिंदा कारतूस और घटना में इस्तेमाल तीनों बाइक बरामद किया है।

गिरफ्तार आरोपियों में गैंग सरदार अमन शुक्ला जक्कनपुर की बैंक काॅलोनी, हरिनारायण आरके नगर, कंपाउंडर प्रफुल्ल आनंदपुरी, सेंटरिंग मिस्त्री सोनेलाल गोसाईं टोला, और गणेश बुद्धा काॅलोनी का रहने वाला है। एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि पुलिस टीम 27 जून को इस नतीजे पर पहुंच गई थी कि घटना में अमन शामिल है। पुलिस को अमन के घर से 23 लाख, हथियार और 3 बाइक मिली।

See the source image

पुलिस की पूछताछ में यह बात भी सामने आई है कि दिसंबर, 2019 में ही डकैतों ने बैंक में डाका डालने की साजिश रची थी।

See the source image

पुलिस के मुताबिक, 22 जून को बैंक में डाका डालने से पहले अपराधी गर्दनीबाग स्थित मंगलतालाब के पास जुटे। यहां सभी ने हथियारों को अपने पास रखा और प्लानिंग करने लगे। कुछ समय बाद लगभग दोपहर तीन बजे लुटेरे पीएनबी के सामने पहुंचे। इसी बीच लाइनर ने उन्हें भीतर आने का इशारा दिया। लाइनर से हरी झंडी मिलते ही अपराधी बैंक में घुस गए। वारदात को अंजाम देने के बाद साजिश के तहत लुटेरे अलग-अलग रास्तों की ओर भागे थे, ताकि कोई उन तक पहुंच न सके। 

इस गैंग की ख़ासियत यह हैं कि कोई मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करता था और ना सोशल मीडिया पर कोई प्रोफ़ाइल था, जिसके कारण किसी को शक नहीं होता था और घटना के बाद सब अपने काम में पहले की तरह सक्रिय हो जाते थे जिससे किसी को शक नहीं होता था 

loading...

Check Also

सीएम कैंडिडेट रहे नीतीश अब बोले- मेरा कोई दावा नहीं, कल NDA की बैठक में मुख्यमंत्री पर फैसला

बिहार चुनाव के नतीजों के बाद पहली बार गुरुवार शाम को सीएम नीतीश कुमार मीडिया …

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *